About Me

मेरी पहचान

बेशक इस्तकबाल है,आई दरवाजे पर कोई परछाई है।

सुना है एक इंसानी रूह, आज मुझे जान ने यहाँ आई है।

“मेरी पहचान बस इतनी है, लोग इंसान पुकारते है,

महसूस जानवरों सा होता है।”

मैं दिनेश धांडे, शांतिदूत के मालिक के तौर पर अपना परिचय दे रहा हूँ। मै रेनेसांस कॉलेज नागपुर में कंप्यूटर शिक्षक के तौर पर पिछले ९ वर्षो से कार्यरत हूँ। एनिमेटर साथ ही ग्राफ़िक्स डिज़ाइनर के तौर पर फ्रीलांसिंग करना भी मेरा पेशा है। दरसल मेरी बुनियादी पढाई “कला” (ARTS)शाखा से हुई है। इसीलिए शायद मुझे इंसान या इंसान से जुड़े विषयो जैसे इंसान, युवावर्ग, बेरोजगारी,समाज,विज्ञानं, प्रौद्योगिकी“(टेक्नोलॉजी), शिक्षा, खेल,और आर्थिक विषयो में अधिक रूचि है। अपने काम के साथ लिखना मेरा शौक रहा है। बोहोत बार सोचता हूँ के हम टेक्नोलॉजी और विज्ञानं के  सहारे इतने दूर निकल गए है के हमें एक इंसान से दूसरा इंसान दूर नजर आने लगा है। 

उद्देश्य:- 

 शांतिदूत शुरू करने का मकसद भी एकदम सरल है। “इंसानी प्रवृत्ति में आया जानवरो जैसा बदलाव” यह ब्लॉग का मूल आधार होगा। मेरे ब्लॉग में “शिक्षा”(Education),“सेहत”(Health)“प्यार”(Love),“बेरोजगारी”(Unemployment),“प्रौद्योगिकी”  (Technology),”आर्थिक”(Financial) विषयो पर चर्चा होगी।

उपर्युक्त विषयो का मानव जीवन पर जो असर पड़ा है। और भविष्य में उसके हमें क्या परिणाम भुगतने होंगे। भविष्य में होनेवाले परिणामो से बचने के लिए हम क्या कर सकते है और हमें क्या करना चाहिए। इंसान को इंसान की पहचान कराना। इंसान को इंसान से मिलाना। इत्यादि मेरे ब्लॉग के विषय होंगे।  

मुझे आशा है कि इस इंसानियत की ओर बढ़ते हुए कदमो से कदम मिला कर आप मेरा साथ देंगे 

धन्यवाद् 

नाम- दिनेश धांडे

पता- क्वाटर 287, ब्लॉक 35, टाइप-2,

सी पि डब्लू डी कॉलोनी, कटोल रोड,

नागपुर- 440013